विजेट आपके ब्लॉग पर

Wednesday, November 05, 2008

12. आगामी लोस चुनाव में मगही मंडप मगही भाषा को मुद्दा बनायेगा

http://in.jagran.yahoo.com/news/local/bihar/4_4_4937734_1.html

आगामी लोस चुनाव में मगही मंडप मगही भाषा को मुद्दा बनायेगा

24 Oct 2008, 08:39 pm


शेखपुरा आसन्न लोकसभा चुनाव में मगही मंडप मगही भाषा को संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल किये जाने को प्रमुख मुद्दा बनाया जायेगा। इसके लेकर मगही मंडप में छठ पूजा के बाद इस पूरे क्षेत्र में जनसंपर्क अभियान शुरू करने का निर्णय लिया गया है। इसकी जानकारी मगही मंडप के जिलाध्यक्ष रामचन्द्र ने दी। उन्होंने आरोप लगाया कि राजनीतिक साजिश के तहत मगही भाषा की उपेक्षा की जा रही है तथा मगही को संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल नहीं किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मगही भाषा-भाषी 40 लाख मतदाता बिहार के सात लोकसभा क्षेत्रों के चुनाव परिणाम को प्रभावित करने की स्थिति में है। इनमें जमुई, मुंगेर, नवादा, नालंदा, जहानाबाद, पटना तथा औरंगाबाद, गया का लोकसभा क्षेत्र शामिल है। रामचन्द्र ने बताया कि मगही मतदाताओं तथा आम लोगों को इस बात के लिए प्रेरित किया जायेगा कि लोकसभा चुनाव के लिए वोट मांगने वाले प्रत्याशी से पहले यह शपथ लिया गया कि वह सांसद चुने जाने के बाद संसद में मगही भाषा को आठवीं अनुसूची में शामिल करने की बात उठायेगा। रामचन्द्र ने कहा कि मगही भाषा की उपेक्षा करने वाले लोस प्रत्याशी को वोट नहीं दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि करीब 5 करोड़ लोग मगही भाषा का उपयोग अपनी बोलचाल में करते है, मगर इसे अभी तक उपेक्षित रखा गया है जबकि लाख की संख्या में बोली जाने वाली भाषाओं को संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल किया गया है।

1 comment:

सतीश चंद्र सत्यार्थी said...

आदरणीय नारायण जी
प्रणाम
आप सचमुच मगही भाषा की सच्ची सेवा कर रहे हैं
मैं बहुत छोटा हूँ आप पर टिप्पणी करने के लिए
बस एक अनुरोध है की नियमित रूप से लिखते रहें और अधूरे पोस्ट्स को पूरा करें
शुभकामनाएं